Breaking

समुंद्री लहरें और एक तिनके की कहानी - Motivational Story

समुंद्री लहरें और एक तिनके की कहानी / Motivational Story in Hindi For Success

Motivational Story in Hindi For Success
एक अनजान से टापू के किनारे से समुंद्री लहरे टकराया करती थी और किनारे को अपनी ताकत दिखा कर लोट जाती थी. उस टापू के किनारे पर एक बॉस का पेड़ था. जो उन लेहरो का हर रोज सामना करता पर अपनी जड़ो को कस कर थामे रहता था.

उन लेहरो ने उस टापू के किनारे को तबा कर दिया था और उस पेड़ को भी तबा करना चाहती थी.

एक दिन एक समुंद्री लहर अपनी पूरी ताकत से आयी और पेड़ से जा टकराई. पेड़ इस टकर को मुश्किल से सहन कर पाया पर उस बॉस का एक तिनका उस बॉस से अलग होकर लहर मे जा गिरा.

उस पेड़ के तिनके को तोड़ कर लहर बहुत खुश हुई और अपनी जीत की खुशी मे उस तिनके को डुबाने लगी. पर वो तिनका भी उस बॉस का अंग था जिसने कभी इन लेहरो से हार नहीं मानी थी जैसे ही वो लेहरो मे डूबता कुछ ही देर बाद वो फिर से लेहरो के ऊपर आ जाता. ये खेल कई दिनों तक चलता रहा पर वो तिनका डूब नहीं रहा था.


जिस तिनके से वो लहरें खेल रही थी. अब वो तिनका उन लेहरो से खेलने लगा. लहरें उस तिनके का अस्तित्व मिटाना चहाती थी पर वो तिनका भी हार नहीं मान रहा था और धिरे धिरे लेहरो को थका रहा था. जैसे जैसे वो लेहरे थक रही थी वो तिनके को किनारे की तरफ लेकर जा रही थी. अंत मे वो लेहरे एक और टापू पर पहुंची और उस तिनके को वहाँ पर छोड़ कर वापिस समुन्दर मे चली गयी.



उस तिनके को बॉस से बिछड़ने का तो गम था पर उस तिनके ने आज खुद की ताकत को भी जान लिया था.वो तिनका उन समुंद्री लेहरो पर जीत गया था.


इस कहानी से मुझे ये ही समझ आया की अगर वो छोटा सा तिनका उन लेहरो पर विजय पा सकता है तो हम अपने जीवन मे आने वाली मुसीबत की लेहरो पर क्यों नहीं..एक तिनके के समान बनो तो ये लहरें भी तुमसे हार जाएगी.

            कविता
Motivational Story in Hindi For Success


क्या अहम् भरी लहरें थी वो...
और क्या था वो हल्का सा तिनका...

लेहरो ने पूरा जोर लगाया...
पर वो तिनका डुब न पाया...

लेहरो का अहम् टूटने लगा....
तिनके का सब्र जीतने लगा....

थक कर वो लहरें हार गयी
तिनके को तहराकर उस पार गयी
तिनके को तहराकर उस पार गयी.. तिनके को तहराकर ..........|


लेखक - Mr.Aashish
नोट : अगर आपको 'समुंद्री लेहरे और एक तिनके की कहानी' पसंद आई है तो इसे ज्यादा से ज्यादा Share करें. आपका किया गया एक शेयर GyaniMaster Team का हौसला बढ़ाने में अहम योगदान देता है. आप हमसे जुड़ने के लिए Free Email Subscribe और हमारे Facebook Page को फॉलो करें.


ये भी जानें :

वो मेरे गाँव की मिट्टी - दिल छू लेने वाली एक छोटी सी कहानी

में धूल से सनी किताब - एक छोटी सी कहानी जो दिल में उतर जाए 


No comments:

Post a Comment