Breaking

माँ एक शब्द नहीं - एक एहसास है जो साथ साथ चलता है ! Heart Touching Mother Poetry

माँ एक शब्द नहीं - एक एहसास है जो साथ साथ चलता है - Heart Touching Mother Poetry

Heart Touching Mother Poetry

माँ पर आज तक जितना भी लिखा गया है वो सब कम है. क्युकि माँ एक ऐसा नाम और ऐसा जिवंत एहसास है जो कभी किताबो या Lines में कैद नहीं हो सकता. लेकिन फिर भी माँ के एहसासो को कविता या Lines के जरिए किताबो में उतारा गया है. आज हम भी कुछ Lines माँ के बारे में लिख रहे है जो आपको जरूर पसंद आएगी. तो चलिए पढ़ते है Heart Touching Mother Poetry


क्या होती है माँ ?

Heart Touching Mother Poetry

तेरे जीवन की डोर है माँ
तेरे दर्द की सिहरन है माँ
तेरे हॅसने का कारण है माँ
तेरे चलने का ज्ञान है माँ
तेरे संस्करो का पाठ है माँ
तेरे जीवन का सार है माँ

क्या करती है माँ ?

Heart Touching Mother Poetry

तुझे जीना सिखाती है माँ
तेरे संस्कारो को बड़ा बनाती है माँ
तेरी गलतियों को भुलाती है माँ
तेरी जरुरत को हकीकत बनाती है माँ
तेरे सपनो को पंख लगाती है माँ
तेरे नखरो को हंसकर सह जाती है माँ

क्यों करती है माँ ?

Heart Touching Mother Poetry

कलेजा का टुकड़ा है तू
प्यार से जकड़ा है तू
भुला नहीं सकती माँ
तुझे अपने से ज्यादा चाहती है माँ .........(to be Continued)

Writer : Mr Aashish

नोट : अगर आपको माँ के ऊपर लिखी कविता 'माँ एक शब्द नहीं - एक एहसास है जो साथ साथ चलता है ! Heart Touching Mother Poetry' पसंद आई है तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर व् हमें फॉलो करे. आप कमेंट के जरिये जरूर बताए आपको यह लाइन्स कैसी लगी.

ये भी जानें

मेरी भूख बिक रही है लाखो में / Heart Touching Poetry

में धूल से सनी किताब - एक छोटी सी कहानी जो दिल में उतर जाए



1 comment:

  1. बहुत उम्दा लाइन्स लिखी है आसिष जी ।इस कविता को एक बार नही बार बार शेयर करुँगी

    ReplyDelete