Breaking

में धूल से सनी किताब - एक छोटी सी कहानी जो दिल में उतर जाए

में धूल से सनी किताब - एक छोटी सी कहानी जो दिल में उतर जाए / Heart Touching Story


में धूल से सनी किताब - एक छोटी सी कहानी जो दिल में उतर जाए

में किताब आज से कुछ साल पहले लाइब्रेरी में आये हर उस सवाल का जवाब थी जो तेरे दिमाग को कुरेदता था, तेरे हाथो के स्पर्श से मुझे मेरी अहमियत का पता चलता था ।
तेरे सवाल का जवाब देने पर, तेरी ख़ुशी को महसूस करती थी में किताब

तेरी उंगलिया जब मेरे लब्जो को कुरेदती अपनी मंझिल तलाशती थी , और में तेरे साथ अठ खेलिया खेलती तेरे सवाल को छुपा देती थी ।
मेरे कागज के ज्ञान को अनमोल बनाती तेरी जिज्ञासा याद आती है मुझे ,
में किताब

तेरे दोस्तों में जब बहस का कारण बनती थी , और तुंझे जिताने के लिए तेरे अताह ज्ञान का कारण बनती थी में किताब,
तेरे स्पर्श को आज भी वैसे ही तरसती हु जैसे पहले तरसती थी । में किताब

आज भी वही हु - जहा तूने मुझे छोड़ा था -
लेकिन धूल से सनी थोड़ी मेलि हो गयी हु में किताब ,

जानती हूं तुंझे आज मेरी जरुरत कम है तेरे पास ज्ञान का अपार संसार है ।तेरी एक क्लिक से तू मेरी दोस्ती को कमजोर कर सकता है ,
लेकिन पुराणी दोस्ती तेरी थी न - में किताब 

लोट आ वापिस तेरी उंगलियों के स्पर्श को आज भी तरस रही हु में किताब 

तेरे सवालो का जवाब देना चाहती हु में किताब ।
में जानती हूं मेरा ज्ञान तेरी क्लिक के मुकाबले कम है ।
लेकिन जूठा ज्ञान भी तो नहीं देती न मैं किताब

तेरी दोस्त हु । लेकिन अभी दूर हु । तेरे मन से तेरे सवालो से ।
लेकिन कभी न कभी तो आना होगा तुंझे फिर से मेरे पास
आकिर तेरी नीव को बनाने वाली जो थी में किताब

Written by - Mr. AASHISH


दोस्तों ये छोटी सी स्टोरी सिर्फ आपको किताब की अहमियत समझाने के लिए लिखी गयी है ,क्योंकि आज हमारी प्यारी दोस्त रूठने लगी है। ।क्योंकि हम ऑनलाइन ज्ञान की दुनिया में इतना खो गए है ।कि उनको याद करना भी भूल गए है । तो दोस्तों आपको किताबो से आज भी दोस्ती को बरकरार रखना चाहिए और भविस्य में भी रखना होगा ।
ध्न्यवाद

नोट : अगर आपको यह कहानी पसंद आई है तो इसे ज्यादा से ज्यादा Share करे.ध्यान रहे आप इस स्टोरी को शेयर करते समय इस स्टोरी के राइटर - Mr.Aashish के नाम को चेंज मत करे. ये स्टोरी कॉपीराइट एक्ट के दायरे में आती है. आप हमसे जुडने के लिए Free Email Subscribe और हमारे Facebok Page पेज को Follow करे. 

ये भी जाने : 

वो मेरे गाँव की मिट्टी - दिल छू लेने वाली एक छोटी सी कहानी

2 comments:

  1. Heart-touching story. Keep publishing such amazing stories

    ReplyDelete