Breaking

मेरी पत्नी और कोहिनूर हीरा (कहानी)

मेरी पत्नी और कोहिनूर हीरा / My Wife and Kohinoor Diamond Hindi Story

My Wife and Kohinoor Diamond Hindi Story

आज शाम के समय ऑफिस से घर लोट कर सोच रहा था, क्यों न अपनी बीवी को कुछ उपहार दिया जाए.बहुत समय बीत गया न मेरी बीवी ने उपहार माँगा और न ही मैंने अपनी बीवी को पिछले 2 सालो से उपहार दिया.

ये सब दिमाग में चल ही रहा था कि अचानक बीवी कि आवाज कानो में सुनाई देती है, आज रात के भोजन में क्या खाओगे"

मेरा जवाब वही हर बार कि तरह एक ही था " मम्मी से पूछ लो उन्हें क्या खाना है"

मेरी पत्नी ने हमेसा कि तरह ऐसा ही किया " सासु माँ से पूछकर आलू गाजर कि सब्जी बना दी और आज रात मेरे परिवार ने डिनर में आलू गाजर कि सब्जी के साथ चपाती खाई. बहुत ही स्वादिस्ट भोजन था हमेसा कि तरह "

चलिए आपको अपने परिवार से मिलता हु ' मेरे परिवार में कुल चार सदस्य है जिन में मेरी माँ , एक 12 साल का बेटा जोकि 4 क्लास में पढता है , मेरी बीवी और में "

मेरे परिवार में एक मात्र में ही कमाने वाला हु.

मेरी माँ पिछले 2 साल से शुगर कि मरीज है.

जिस कारण मुझे अपनी माँ कि सबसे अधिक देखभाल करनी पड़ती है.

आपको अपने परिवार कि जानकारी देते समय मुझे याद आया "

मुझे तो पत्नी को एक प्यारा सा गिफ्ट देना था. कल ऑफिस से आते समय अपनी प्यारी पत्नी के लिए एक गिफ्ट जरूर लेकर आउगा.

आज मेने ऑफिस से जल्दी छूटी ली और मार्किट से पत्नी के लिए गिफ्ट लेने चला गया.

मेने बहुत सुंदर गिफ्ट पत्नी के लिए खरीदा और अपने ऑफिस बैग में डाल कर घर कि तरफ चलने लगा

कुछ देर बाद ही में अपने घर पहुंच गया " घर के दरवाजे कि घंटी के बटन को दबाया"


मेरी पत्नी ने दरवाजा खोला "

मेने घर में प्रवेश किया व् कुछ देर आराम करने के लिए सोफे पर बैठ गया

तभी पत्नी कि आवाज आती है " ये लीजिए पानी "

मेने पानी पिया और पत्नी को रुकने के लिए बोला और तभी अपने बेग से वो प्यारा सा गिफ्ट अपनी पत्नी को दे दिया


मेने पत्नी को गिफ्ट खोलने के लिया कहा " पत्नी गिफ्ट देख कर बहुत खुश हुई व् उसे खोलने लगी

गिफ्ट में एक बहुत सुंदर साडी थी जिसे देखकर मेरी पत्नी बहुत खुश हो जाती है और भागी भागी मेरी माँ (सासूमाँ) के पास जाती है.


पत्नी- सासु माँ से बोली

माँ देखो कितनी सूंदर साडी है " आप बताओ आपको किसी लगी "

सासु माँ ने साड़ी को देखा और मुस्कुराते हुए कहाँ "बहुत सुंदर है बहुत सुंदर है".

कुछ देर बाद ही सासु माँ ने पूछा ये कौन लेकर आया है.

पत्नी ने जवाब दिया - वो (पति) लेकर आए है

सासु माँ ने पूछा - किसके लिए

पत्नी ने जवाब दिया - माँ जी आपके लिए

सासु माँ बेहद खुश हो जाती है और कुछ पल के लिए अपनी बीमारी को भूल कर साडी को बार बार अपने गले से लगाती है.


तभी पत्नी के मुँह से कुछ शब्द निकलते है " आपकी बीमारी का क्या है उसे तो हम दोनों ठीक कर ही देंगे लेकिन आपकी उदासी तो हमें भी बीमार कर रही है"

सासु माँ जैसे आप आज खुश है हमेसा ऐसे ही खुश रहे

पीछे से में ये सब देख और सुन रहा था और मेरी आँखों में आंसू थे

में मन ही मन ईश्वर को याद करने लगा " हे ईश्वर " मुझे मेरी जिंदगी में ये कोहिनूर हीरा (पत्नी) देने के लिए बहुत बहुत शुक्रिया


अगले दिन में एक और गिफ्ट लेकर घर आया और उसे अपने पत्नी को दिया " उस गिफ्ट में भी एक साड़ी थी जो मेरी पत्नी को बेहद पसंद आई'

Written By : AASHISH

निष्कर्ष : जिस घर में ऐसी पत्नी होती है वो घर हमेसा खुशहाल रहता है. उस घर में बीमार लोग भी जल्दी स्वश्थ हो जाते है साथ ही समाज में भी उस घर के सदश्यो को इज्जत प्राप्त होती है.


नोट : अगर आपको ''मेरी पत्नी और कोहिनूर हीरा (कहानी) / My Wife and Kohinoor Diamond Hindi Story" कहानी पसंद आई है तो इसे ज्यादा से ज्यादा Share करें. आपका किया गया एक शेयर GyaniMaster Team का हौसला बढ़ाने में अहम योगदान देता है. आप हमसे जुड़ने के लिए Free Email Subscribe और हमारे Facebook Page को फॉलो करें.

ये भी जानें :


समुंद्री लहरें और एक तिनके की कहानी / Motivational Story in Hindi For Success


पिता का साया कब काम आया - जब एक बच्चे ने अपनी माँ से पूछा ! Heart Touching Father Poetry



No comments:

Post a Comment